Essay on Lotus Flower in Hindi | कमल के फूल पर निबंध

Lotus Flower in Hindi 


Essay on Lotus Flower in Hindi
कमल 


इस पोस्ट में आपको कमल के फूल पर निबंध और कमल की सारी महत्वपूर्ण जानकारी बताऊंगा|

कमल को भारत का राष्ट्रिय फूल का घोषित किया गया है|


इसे वैज्ञानिक रूप से निलम्बियन न्यूसीफेरा (Nelumbian Nucifera) के नाम से जाना जाता है|


Lotus को पवित्र और शांति का प्रतिक माना जाता है|


जो कमल जड़, नाल, पत्ते और बीजों से युक्त और पूरी तरह से खिला हुआ होता है उसे कमलिनी कहते हैं|


यह एक सुन्दर फूल है जो देवत्व, प्रजनन, धन और ज्ञान का प्रतिक है|



कमल को आदि काल से ही भारतीय संस्कृति का एक शुभ प्रतिक के रूप में देखा जाता है|


कमल के फूल पर निबंध 

कमल को संस्कृत में अम्बुज, पंकज, पद्म कहा जाता है, हिंदी में कमल, कंबल कहा जाता है, गुजराती में कमल, धोलाकमल कहा जाता है, अंग्रेजी में Lotus कहा जाता है और लेटिन में Nelumbium Necifera कहा जाता है|


इसके सांस्कृतिक महत्त्व को देखते हुए आधुनिक भारत के संस्थापकों ने कमल को राष्ट्रिय फूल के स्वरुप में घोषित किया|


दुनियाभर में कमल के फूल गुलाबी और सफ़ेद रंग के ही पाए जाते हैं|


कमल के पत्ते बड़े बड़े और गोल होते हैं और कमल के फूलों में जो पिली जीरा होती है उसे कमल केशर कहा जाता है|


यह रक्त विकार, विसर्प और विष को दूर करता है|


Essay on Lotus in Hindi

Lotus का फूल तालाब, झरने, और कीचड़ भरी जगहों में पाया जाता है|


कमल की पत्तियां पतली और लम्बी होती है जिसकी वजह से इन्हें पानी की सतह पर तेरने में सहयोग मिलता है|


कमल के फूल के निचे का डंठल 100 सेमी तक ऊँचा हो सकता है|


Lotus के फूल कद में बड़े और पानी की सतह के ऊपर पाए जाते है|


हिन्दू धर्म की पौराणिक कथाओ के अनुसार कमल धन की देवी लक्ष्मी का आसन है|


Lotus को मुख्य रूप से एक सजावटी पौधे के रूप में देखा जाता है और इस फूल को धार्मिक उद्देश्यों के लिए उपयोग में लिया जाता है|


कमल के शहद का उपयोग आँखों के विभिन्न रोगों के उपचार के लिए किया जाता है|


कमल को वियतनाम ने भी अपना अपना राष्ट्रिय फूल घोषित किया है|


कमल का फूल दिन में खिलता है और रात में बंद हो जाता है और यह केवल तीन दिनों के लिए ही खिलता है|


कमल के पत्ते स्वाद में कडवे होते हैं लेकिन ये जलन, प्यास, अश्मरी और बवासीर को ठीक करने में बहुत ही कारगर है|


कमल के पत्ते, जड़ और बीज का उपयोग अलग अलग दवाएं बनाने में होता है|


कमल के फूल का इस्तेमाल एंटीजेनिक ड्रग्स बनाने में किया जाता है जो मन को बदलने का काम करता है|


कमल का फूल ठंडा होता है और दिमाग को यह शांत रखता है|


Essay on Lotus Flower in Hindi
Lotus


Lotus Flower information in Hindi


कमल के फूल का रोजाना उपयोग करने से यह स्ट्रेस को कम करता है और ब्लडप्रेसर कम करने में मदद करता है|


कमल का फूल निंद की बीमारी दूर करने में मदद करता है और नींद बढाने में उपयोगी है|


आप पुराने दर्द से पीड़ित हैं तो नीले कमल की जडीबुटी खाने से राहत मिलेगी क्यूंकि इसमें अधिक मात्रा में एंटीओक्सीडेंट होते हैं जो दर्द को मिटाने में मदद करते हैं|


कमल के फूल से हर्बल टी भी बनायीं जा सकती है जो सेहत के लिए फायदेकारक है|


कमल की मादा केसर को काली मिर्च के साथ पीसकर पिने और लगाने से साँप के विष का असर ख़त्म हो जाता है|


कमल की जड़ को नारियल के तेल में मिलाकर सिर पर लगाने से सिर और आँखों में ठंडक महेसूस होती है|


कमल के सेवन से ह्रदय और मस्तिस्क की शक्ति बढ़ जाती है|


जिन लोगों को कई बार हार्ट अटैक आ चूका है उन लोगों के लिए कमल का फूल वरदान है|  मुलेठी, नागरमोथा, सफ़ेद चन्दन के साथ कमल के फूल का मिश्रण मिलाकर ह्रदय रोगियों के लिए औषधियों का निर्माण किया जाता है|


आपको कमल के फूल पर निबंध (Essay on Lotus Flower in Hindi)  किस लगा  Comment करके जरूर बताएं|

Previous Post
Next Post
Related Posts